नाबार्ड बैंक लोन स्कीम फॉर डेयरी फार्मिंग 2022 आवेदन प्रॉसेस

नाबार्ड बैंक लोन स्कीम फॉर डेयरी फार्मिंग: नमस्कार दोस्तों स्वागत हमारे वेबसाइट earningtarika.in पर जैसा कि आप लोग जानते हैं कि देश और दुनिया में पूर्णा महामारी का प्रकोप चल रहा है ऐसे में सभी लोग अपना खुद का बिजनेस शुरू करने के बारे में सोच रहे हैं लेकिन अगर आप कोई भी बिजनेस शुरू करेंगे तो इसके लिए आपको अच्छा खासा पैसा निवेश करना होगा l

ऐसे में अगर आप डेयरी फार्मिंग का बिजनेस शुरू कर रहे हैं लेकिन आपके पास पैसे नहीं है तो इसके लिए आप लोन कहां से लेंगे अपना खुद का डेरी फार्मिंग का बिजनेस आप शुरू कर सके तो मैं आपको बता दूं कि अगर आप इस बिजनेस को शुरू करने के लिए लोन लेना चाहते हैं तो आपको नाबार्ड बैंक की तरफ से आसानी से लोन मिल जाएगा l

अगर आपके मन में सवाल आएगा की लोन लेने की प्रक्रिया क्या है कौन कौन से डॉक्यूमेंट लगेंगे योग्यता क्या होनी चाहिए लोन की राशि कितना आपको मिलेगी अगर आप इसके बारे में बिल्कुल जानते हैं तो कोई बात नहीं है मैं आज आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताऊंगा की नाबार्ड बैंक लोन स्कीम फॉर डेयरी फार्मिंग 2022 आइए जानते हैं उसके बारे में-

आज हम जानेंगे hide
1 नाबार्ड बैंक डेयरी फार्मिंग लोन स्कीम क्या है

नाबार्ड बैंक डेयरी फार्मिंग लोन स्कीम क्या है

ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों पशु पालन से संबंधित बिजनेस डेयरी फार्मिंग का व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं लेकिन उनके पास पैसे नहीं है तो सरकार नाबार्ड बैंक डेयरी फार्मिंग लोन स्कीम के तहत उन्हें आर्थिक सहायता के तौर पर लोन की राशि प्रदान करेगी ताकि वह अपना खुद का बिजनेस शुरू कर पाए I

यह पढ़े: प्रधानमंत्री बिजनेस लोन

नाबार्ड बैंक लोन स्कीम फॉर डेयरी फार्मिंग, नाबार्ड बैंक डेयरी फार्मिंग लोन स्कीम क्या है,

इस योजना के माध्यम से देश में पशुपालन से संबंधित बिजनेस को सरकार प्रोत्साहित करना चाहती है ताकि अधिक से अधिक लोग पशुओं का पालन करें अधिक मात्रा में दूध की प्राप्ति होगी इसके अलावा देश में बेरोजगार की समस्या को भी समाप्त करना है

नाबार्ड डेयरी फार्मिंग लोन स्कीम के प्रमुख उद्देश्य क्या है

NABARD डेयरी फार्मिंग लोन स्कीम की शुरुआत विशेष तौर पर ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों को पशुपालन से संबंधित बिजनेस को शुरू करने में अगर उन्हें पैसे की आवश्यकता है तो उनकी उस जरूरत को पूरा करना है I ताकि उन्हें कम ब्याज दर पर NABARD बैंकों के माध्यम से लोन दिया जा सके ताकि अपना खुद का रोजगार शुरु कर सके और अपने पैरों पर खड़े हो पाएं l

यह पढ़े:

अमूल की फ्रेंचाइजी कैसे ले

Medical store kaise khole
Patanjali store kaise khole
Online paise kaise kamaye
Online paisa kamane ki website

नाबार्ड डेयरी फार्मिंग लोन स्कीम का लाभ लेने की योग्यता क्या है

  • किसान, व्यक्तिगत उद्यमी, गैर-सरकारी संगठन, कंपनियां, असंगठित और संगठित क्षेत्र समूह आदि।
  • संगठित क्षेत्र के समूह में स्वयं सहायता समूहो डेयरी सहकारी समितियां, दूध संगठन, दूध संघ आदि जैसे संस्था इस योजना का लाभ उठाने के योग्य माने जाएंगे I
  • इस योजना के अंतर्गत एक परिवार का एक से अधिक सदस्य लोन की राशि प्राप्त कर विभिन्न जगहों पर अनेकों की संख्या में डेयरी फार्मिंग यूनिट की स्थापना कर सकता है लेकिन उसके लिए उसे बैंक में उन जगहों का पूरा डिटेल विवरण देना होगा तभी जाकर आप को जो लोन की राशि प्राप्त हुई है उसका प्रयोग आप डेयरी फार्मिंग बिजनेस शुरू करने के लिए विभिन्न जगहों पर कर पाएंगे I
  • एक आवेदक इस योजना के तहत केवल एक बार सहायता प्राप्त कर सकता है। दूसरी बार वह इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं कर पाएगा
  • अगर आप एक से अधिक डेयरी फार्मिंग यूनिट की स्थापना करते हैं तो हम दोनों के बीच में दूरी कम से कम 500 मीटर होनी चाहिए तभी जाकर आपको लोन की राशि और सब्सिडी सरकार की तरफ से प्रदान की जाएगी
  • दूसरी बार अगर आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको प्रमाण डिटेल बैंक में देना होगा तभी आप को लोन की राशि मिल पाएगी I

नाबार्ड डेयरी फार्मिंग लोन स्कीम के अंतर्गत कौन कौन से बैंक के आपको लोन की राशि प्रदान करेगी

  • व्यवसायिक बैंक
  • क्षेत्रीय बैंक
  •  राज्य सहकारी बैंक
  • राज्य सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंक

नाबार्ड डेयरी फार्मिंग लोन स्कीम के अंतर्गत आने वाली योजनाएं क्या है

पहली योजना

लाल सिन्धी, साहिवाल, राठी, गिर इत्यादि जैसी देसी दूध देने वाली गायें/ हाइब्रिड गायें/ 10 दुधारू पशुओं जेसे के भैंसों के लिए छोटे डेयरी यूनिट की स्थापना  करना

निवेश कितना करना पड़ेगा- ₹200000 से लेकर ₹1000000

सब्सिडी कितनी मिलेगी

  • 10 पशु डेयरी पर सब्सिडी जनरल वर्क नागरिकों के लिए 25% और अनुसूचित जाति के किसानों के लिए 33.33%,
  • पूंजीगत सब्सिडी सीमा, आम नागरिकों के लिए 1.25 लाख रुपये अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के किसानों के लिए 1.67 लाख रुपये
  • 2 पशुओं की एक इकाई के लिए अधिकतम अनुमत पूंजी 25 हजार रुपये है, जो एससी और एसटी किसानों के लिए 33300 रुपये है।

दूसरी योजना

बछिया बछड़ों के लालन पालन – 20 बछड़ों के लिए ऊपर – पार नस्ल, स्वदेशी मवेशियों तथा वर्गीकृत भैंसों दुधारू नस्लों का जानकारी 

निवेश करना होगा

20 बछड़ों के लिए 80 लाख का निवेश करना होगा।

सब्सिडी कितनी मिलेगी

  • 20 बछड़ों तक की डेयरी स्थापित करने हेतु 25% तक अनुदान दिया जायेग। NABARD योजना के अंतर्गत पशुपालको को ₹1,25,000/- तक अनुदान राशि प्रदान की जाएगी।
  • योजना के तहत अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के पशुपालको को ₹1,60,000/- तक राशि सब्सिडी के तौर पर प्रदान की जाएगी। 

तीसरी योजना

वर्मीकंपोस्ट और खाद (दुग्ध पशुओं के साथ यूनिट से नहीं जोड़ा जायेगा।)

निवेश – 20,000 रुपये

सब्सिडी – 

  • योजना के तहत आवेदक 4.50 लाख रुपए तक के निवेश पर 25% तक की सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
  • ST /SC के पशुअलको को 6 लाख रुपए तक के निवेश पर 33.33% की subsidy प्रदान किया जाएगी।

चौथी योजना

दूध निकालने की मशीनों पर खरीद/ दूध परीक्षकों/ दूध को ठंडा रखने के लिए फ्रिज (क्षमता 2000 लीटर )

निवेश – 18 लाख रुपए 

सब्सिडी:-

  •   4.50 लाख रुपये तक के निवेश पर 25% सब्सिडी
  • ST/ SC पशुपालको के लिए 6.00 लाख रुपये तक के निवेश पर 33.33% सब्सिडी प्रदान की जाएगी। 

पांचवी योजना

स्वदेशी दूध उत्पादन करने हेतु डेयरी उपकरण की खरीद 

निवेश –  न्यूनतम 12  लाख रुपये उससे अधिक भी हो सकती है

सब्सिडी:- 

  •  3 लाख रुपये तक के निवेश पर 25% सब्सिडी
  • ST/ SC पशुपालको के लिए 4 लाख रुपये तक के निवेश पर 33.33% सब्सिडी प्रदान की जाएगी

6ठी योजना

डेयरी उत्पाद के परिवहन हेतु सुविधाएँ और शीत श्रृंखला स्थापना

निवेश – न्यूनतम राशि 24 लाख रुपये 

सब्सिडी:- 

  •  7.5 लाख रुपये तक के निवेश पर 25% सब्सिडी तथा
  • ST/ SC पशुपालको के लिए 10 लाख रुपये तक के निवेश पर 33.33% सब्सिडी प्रदान की जाएगी। इन वर्ग के लोग जीवन स्तर ऊंचा करने के उद्देश्य से सरकार उन्हें ने रुपए की subsidy दें रही है I

निवेश: आपको मोबाइल क्लिनिक के लिए 2.40 लाख रुपये और स्थिर क्लिनिक के लिए 1.80 लाख रुपये का निवेश करना होगा।

Subsidy –

  • व्यय का 25% (अनुसूचित जातियों / अनुसूचित जनजाति किसानों के लिए 33.33%)। 45,000 / – और 60,000 / – रुपये की पूंजी सब्सिडी
  • (अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति किसानों के लिए 80,000 / – रुपये और 60,000 / -) मोबाइल और स्थिर क्लीनिक के लिए।

नाबार्ड डेयरी फार्मिंग बैंक लोन स्कीम के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है

  • सबसे पहले आप इसके ऑफिशल वेबसाइट https://www.nabard.org/ पर विजिट करेंगे
  • जब आप होम पेज पर पहुंचेंगे तो आपको वहां पर इनफार्मेशन सेंटर नाम का ऑप्शन दिखाई पड़ेगा जिस पर आप को क्लिक करना है
  • आपके सामने एक नया पेज फुल कराएगा जहां आपको आवेदन करने का एक पीडीएफ फाइल दिखाई पड़ेगा उस पर आपको क्लिक करना है
  • अब आप को आवेदन पत्र में जो भी जानकारी यहां पर मांगी गई है उसका पूरा विवरण भर कर अपना आवेदन पत्र सबमिट कर देंगे

नाबार्ड डेयरी फार्मिंग लोन स्कीम के तहत ऑफलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है

  • अगर आप ऑनलाइन आवेदन करना नहीं जानते हैं तो इसके लिए आप ऑफलाइन तरीके का भी इस्तेमाल कर सकते हैं सबसे पहले आप स्किन नजदीकी बैंक शाखा में जाएंगे
  • हां पर आपको योजना के तहत आवेदन भरने का आवेदन पत्र प्राप्त होगा इसे आप तो अच्छी तरह से भरेंगे
  • इसके बाद आपको सब्सिडी फॉर्म को भर कर उसमें अप्लाई करना होगा। क्या आपको लोन की राशि में सब्सिडी मिल सके
  • आवेदक लोन की राशि बड़ा होने पर व्यक्ति को, नाबार्ड में अपनी प्रोजेक्ट रिपोर्ट को जमा करवाना होगा ताकि बैंक आपको आसानी से बड़ी राशि जून के तौर पर दे सके

नाबार्ड डेयरी फार्मिंग लोन स्कीम हेल्पलाइन नंबर

अगर आपको इस योजना से संबंधित कोई परेशानी या समस्या आ रही है तो आप ऊपर दिए गए नंबर या ईमेल आईडी के माध्यम से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

सारांश– उम्मीद करता हूं कि आपको समझ में आ गया होगा नाबार्ड बैंक लोन स्कीम फॉर डेयरी फार्मिंग क्या है आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है सब्सिडी कितनी मिलेगी योग्यता क्या होनी चाहिए अगर इसके बाद भी अगर आपके मन में कोई सवाल है तो मेरे कमेंट बॉक्स में आकर तुझे मैं आपको सवालों का जवाब अवश्य दूंगा तब तक के लिए धन्यवाद और मिलते हैं अगले आर्टिकल मे l

यह पढ़े:
Mushroom ki kheti kaise kare
kali mirch ki kheti
Masala Business kaise kare
Gulab ki kheti kaise kare

अपने दोस्तों से साझा करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.