Omicron variant covid 19 क्या है, इसका लक्षण और बचाव क्या है?

हालही में विश्व स्वास्थ्य संस्था के बैठक में कोरोना वायरस के एक नए वैरिएंट को “variant of concern” घोषणा करार दिया है। उनके मुताबिक कोरोना के इस वैरिएंट दूसरे वैरिएंट के तुलना अधिक संक्रामक है। इंसमे लोगो को संक्रमित करने की क्षमता दूसरे वैरिएंट के तुलना में अधिक है।

omicron variant covid 19

आपको बता दे, 19 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका में इसे डिटेक्ट किया गया। कोरोना टेस्ट के लिए 9 नवंबर को जो भी सैंपल इकट्ठा किया गया था उंसमे से कुछ सैंपल में omicron variant मिला। इस खबर से लोगो के मन मे डर फैल हर है।

Omicron kya hai,omicron variant covid 19

दक्षिण अफ्रीका में omicron variant covid 19 डिटेक्ट होने के बाद अब हॉन्गकॉन्ग, बोत्सवाना के साथ आसपास के कुछ देशों में कोरोना वायरस के इस स्ट्रेन मिल रहा है। इसके चलते ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका ने दक्षिण अफ्रीका से आने वाले फ्लाइट्स पर रोक लगाई है।

Omicron kya hai (omicron variant covid 19 kya hai)

जैसे की अपने पहले भी सुना होगा कि कोरोना वायरस के म्यूटेशन के चलते कई सारे वैरिएंट पहले भी आई है। ठीक उसी प्रकार इस बार भी कोरोना वायरस के म्यूटेशन के चलते एक नई वैरिएंट मिला है।

कोविड19 के इस नए वैरिएंट के चलते सभी देशों में हड़कंप मच गया है। WHO ने हालही में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट B.1.1.529 को खतरनाक कहां है। विश्व स्वास्थ्य संस्था ने कोरोना वायरस के इस वैरिएंट का नाम ओमिक्रोन (Omicron) रखा है। Omicron एक ग्रीक शब्द है।

डब्लूएचओ के रिपोर्ट के अनुसार कोरोना वायरस के omicron variant ज्यादा संक्रामक है जो तेजी से लोगो मे फैलता है। इम्युनिटी को मात देने की क्षमता भी दूसरे वैरिएंट के तुलना में अधिक है।

ऐसे खबरों के चलते लोगों के मन मे कई सारे सवाल आ रहे है इसका सीधा असर देश के अर्थनीति पर दिखाई दे रहा है। omicron variant covid 19 के चलते कुछ देशों में लॉकडाउन लग गया है।

कुछ एक्सपर्ट्स का कहना है कि, वैक्सीन ले चुके व्यक्तियों के ऊपर भी इस वैरिएंट का असर होगा। हालांकि उन्होंने यह भी कहां की इसे रोकने का एक ही तरीका है, जल्द से जल्द लोगों को वैक्सीनटेड किया जाए। इससे वायरस का म्यूटेशन होने की क्षमता टूट जाएगी।

यह पढ़े:

पाकिस्तानी विधायक Sana Ashiq का प्राइवेट वीडियो वायरल

फातिमा सना शेख और अमीर खान का शादी

Omicron variant covid 19 के लक्षण

चिकित्सक और रैसेरचेर का कहना, इस वैरिएंट का कुछ खास लक्षण नजर नहीं आया। कोरोना वायरस के दूसरे वैरिएंट की तरह ही इसके लक्षण है। कुछ ऐसे पेशेंट्स भी जिनमे कोई सिम्पटम दिखाई नहीं दी यानी असिम्प्टोमैटिक है।

इसलिए डब्लूएचओ का कहना है, लोगो को जल्द से जल्द कोरोना वैक्सीन का सारे डोज कंपलीट करना है और कोरोना से जुड़े सारे बिधिओं का पालन सही से करना है।

भारत मे ओमिक्रोन (omicron) वैरिएंट का खतरा कितना है

कोरोना के ओमिक्रोन वैरिएंट के खबर आने के पश्चात देश के इकोनॉमी में सीधा असर दिखे। 26 नवंबर 2021 को इंडियन स्टॉक मार्केट लगभग 3 प्रतिशत गिरा है।

हालांकि, आपको बता दे, सरकार ने इस वैरिएंट से लड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार है। विदेशों से आने वाले सभी यात्रियों का टेस्ट अनिवार्य कर दी है। एयरपोर्ट में फ्लाइट लैंड होने के बाद सभी यात्रियों का कोविट टेस्ट किया जाएगा।

इसलिए सभी देशवासियों से गुजारिश है, इससे डरने की जरूरत नहीं। जिन लोगों ने अभी तक वैक्सीन नहिज ली जल्द से जल्द वैक्सीन लगवाए और सरकार द्वारा जो भी बिधिओं बताई गई उसे सही से पालन करें।

क्या Omicron वैरिएंट डेल्टा वैरिएंट से खतरनाक है?

WHO के कमेटी ने कोरोना के इस नई वैरिएंट को “variant of concern” घोषित किया है। इस रिपोर्ट के अनुसार कोरोना वायरस के ओमिक्रोन वैरिएंट डेल्टा वैरिएंट से ज्यादा संक्रामक बै।

इंसमे तेजी से फैलने की क्षमता दूसरे वैरिएंट से अधिक है। कहा जा रहा कि कोरोना के वैक्सीन लेने वालों को भी इस वैरिएंट का असर होगा।

सरकार का क्या कहना है कोरोना के इस नई वैरिएंट को लेकर?

कोरोना के इस वैरिएंट आने के बाद सरकार ने सतर्क हो गया है और पूरी तरह से तैयार भी है। उनका कहना है कि, देशवासियों को कोरोना से जुड़े सारे विधियों का पालन करना बै।

जैसे साबुन से हाथ धोना, सैनिटाइजर से हाथ बगैरह सैनिटाइज करना, इत्यादि।

Omicron का नामकरण किसने किया?

किसी भी रोगों का नामांकन विश्व स्वास्थ्य संस्था द्वारा किया जाता है। कोरोना के इस नई वैरिएंट ओमिक्रोन का नाम भी विश्व स्वास्थ्य संस्था द्वारा किया गया है।

सारांश: इस आर्टिकल में हमने Omicron variant covid 19 के बारे में बात किया गया है। जहां आपको बताया गया है कि Omicron kya hai और इसका लक्षण और बचाव के बारे में बताया गया है।

अपने दोस्तों से साझा करें

Leave a Reply