M pharma क्या है | M pharm Course Details in Hindi

यदि आप M pharm करने के बारे में सोच रहे तो आज की आर्टिकल आपके लिए है काफी फायदेमंद है। क्योंकि, आज मैं आपको M.pharm Course के बारे में ही बताऊंगा।

इस आर्टिकल को आप ध्यानपूर्वक आखिरी तक पढ़े तभी समझ आएगा कि M Pharma kya hai, एम फार्मा कैसे करे, टॉप कॉलेज कौन सा है, जॉब स्कोप क्या है, एम फार्मा के बाद क्या करे, कितनी सैलरी मिलेगी, इत्यादि।

पढ़ाई के दौरान स्टूडेंट्स के मन मे ये सवाल जरूर आते है कि ऐसा कौन सा कोर्स है जिसे कंपलीट करने के बाद ही नौकरी मिलने की संभावना कई गुना तक बढ़ जाये।

अगर आप भी ऐसा सोच रहे तो आपको बता दूं, फार्मेसी एक ऐसी क्षेत्र में जहां काम की कभी कमी नहीं होगा दिन प्रतिदिन इसके मांग देश तथा विदेशों में तेजी से बढ़ रहा है।

ऐसे में आप भी फार्मेसी के कोर्स कर सकते है। फार्मेसी के तीन प्रकार कोर्स उपलब्ध है। पहला है D.pharma, दूसरा है B.pharma और तीसरा है, M.pharma.

पहले ही आपको D.pharma (Diploma in Pharmacy) तथा B.pharma (Bachelor in Pharmacy) कोर्स के बारे में बताये है। यदि आप इसके बारे में नहीं जानते तो यहां क्लिक करके पढ़ सकते है।

आशा करता हूं अपने पढ़ लिए होंगे अब आइये एम फार्मा के बारे में जानते है।

M.pharm Course Details in Hindi

ये कोर्स कौन कर सकते है, इसके सिलेबस क्या है, कौन सा सब्जेक्ट्स पढ़ना होगा, इत्यादि के बारे में जानने से पहले हमें जानना जरूरी है कि एम.फार्मा क्या है।

M pharma kya hai (M.pharma in Hindi)

M pharma का पूरा नाम है Master of Pharmacy इसे Master of Science of Pharmacy के नाम से भी जाने जाते है। ये दो साल की एक स्नातकोत्तर (postgraduate) डिग्री है।

>> DMLT Course करके लैब टेक्नीशियन कैसे बने

जिन स्टूडेंट्स मेडिकल के क्षेत्र में अपनी करियर बनाना चाहते है ये कोर्स खासकर उनके लिए बनाया गया है। इस कोर्स में मेडिसीन के बारे बारीकी से समझाया जाता है।

मेडिसीन के डिस्पेंसिंग, कंपाउंडिंग से लेकर मेडिसीन प्रोडक्शन एबं रिसर्च के बारे अछि से जानकारी प्रदान की जाती है।

ये एक ऐसी कोर्स है जिसे कंपलीट करने के बाद मेडिकल क्षेत्र में आसानी से आपको काम मिल जाएगा। ये एक स्नातकोत्तर कोर्स होने के नाते इसमें प्रवेश करने के लिए सबसे पहले वी फार्मा के कोर्स करना आवश्यक है।

M pharma Ke Liye Qualifications (योग्यताएं)

एम फार्मा में एडमिशन लेने के लिए PCI द्वारा तय किया गया कुछ शर्तों से आपको गुजरना होगा।

सबसे पहले आपको किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से बी फार्मा करना है वो भी न्यूनतम 50 प्रतिशत नंबर के साथ। मेरा सलाह ये ही की, हमेसा कोशिश करे बी फार्म में 60 प्रतिशत से अधिक नंबर रखने की। इससे अच्छे कॉलेज में एडमिशन लेने आसान हो जाएगा।

और आयु की बात करे तो, इसके लिए कोई आयु निर्धारित नहीं है। आपको सिर्फ बी फार्म करना होता है इस कोर्स में प्रवेश करने के लिए।

>> BMLT Course के डिटेल्स जानकारी

M pharma Ke Fees

अब आप सोच रहे होंगे कि एम फार्मा के फीस कितनी होगी तो आपको बता दूं, भिन्न-भिन्न कॉलेज में कोर्स फीस भिन्न है।

अगर प्राइवेट कॉलेज के फीस देखा जाए तो आमतौर पर 1,50,000 से 3,00,000 तक होते है। ऐसे में यदि आपको सरकारी कॉलेज एडमिशन मिल जाते है तो फीस कई गुना कम होगा लगभग 30,000 से 50,000 तक।

M pharm Course Duration (अवधि)

एम फार्म एक मास्टर डिग्री कोर्स है जिसके अवधि है 2 साल। इस दो साल में चार सेमेस्टर लिया जाता है। और हर सेमेस्टर के लिए अलग अलग सब्जेक्ट्स पढ़ना होता है। इसके सिलेबस के बारे में आगे बताया गया है।

M pharma Kaise Kare

आशा करता हूं, एम फार्मा के बारे में अब तक जितने भी जानकारी दी गई है आपको समझ आ रहा है। अब आइये जानते है कि आप एम फार्मा कैसे करेंगे।

बी फार्मा पास करे: सबसे पहले आप किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज/यूनिवर्सिटी से बी फार्मा पूरा कर लीजिए वो भी कम से कम 50 प्रतिशत नंबर के साथ। कोशिश करे इससे ज्यादा नंबर लाने की।

एम फार्मा एडमिशन प्रॉसेस: एम फार्म में आप दो तरीके से एडमिशन ले सकते है। पहला है, डायरेक्ट एडमिशन और दूसरा है एंट्रेंस एग्जाम के माध्यम से एडमिशन।

यदि आप डायरेक्ट एडमिशन लेने के बारे में सोच रहे है तो आपको बता दूं, आपको सीधा कॉलेज/यूनिवर्सिटी में जाना है और एडमिशन फीस जमा करने के बाद एडमिशन ले लेना है।

ये प्रॉसेस काफी आसान है। परंतु समस्या की बात ये है कि, इसमें आपको अधिकतर प्राइवेट कॉलेज ही मिलेंगे। जिसके कोर्स फीस सरकारी कॉलेज के तुलना में कई गुना अधिक है।

इसलिए हर किसी के पसंदीदा कॉलेज है सरकारी कॉलेज। और इसमें एडमिशन प्राप्त करने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देना होता है।

एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करें: एम फार्म में एडमिशन होने के लिए अधिक कॉलेज उपलब्ध नहीं है। इसलिए कम्पटीशन थोड़ा ज्यादा है।

ऐसे में यदि आपको सरकारी कॉलेज में भर्ती होने है तो बी फार्मा के सारे सब्जेक्ट्स को बारीकी से पढ़कर तैयारी करना होगा।

एंट्रेंस एग्जाम: इंडिया में GPAT के नाम से एक नेशनल लेवल का टेस्ट लिया जाता है जिसे उत्तीर्ण होने के बाद प्राप्त नंबर के आधार पर किसी सरकारी कॉलेज में M.pharm के लिए दाखिल मिल जाते है।

ये रहा एम फार्म कोर्स के एडमिशन प्रॉसेस। अब आइये जानते है कि इसके टॉप कॉलेज कौन से है।

>> MBA Course करके लाखो की सैलरी प्राप्त करे

Top M pharm Colleges

हर पोस्ट की तरह इसमें भी बताऊंगा की जिस कॉलेज में एडमिशन लेने के सोच रहे है सबसे पहले उसके बारे में थोड़ा जानकारी प्राप्त कर लीजिए। क्योंकि ऐसा बहुत सारे कॉलेज है जिसके इंफ्रास्ट्रक्चर सही नहीं है, जहां अच्छे प्लेसमेंट नहीं मिलते, इत्यादि।

इसलिए एडमिशन से पहले कॉलेज के बारे में जान लेना ही बेहतर है। यहां पर मैंने कुछ कॉलेज के बारे में बताये है जो आगे देखने को मिलेगा।

• Jadavpur University, Kolkata, West Bengal

• National Institute of Pharmaceutical Education and Research, Mohali, Punjab

• Bombay College of Pharmacy, Mumbai, Maharashtra

• KIET Group of Institutions, Ghaziabad, Uttar Pradesh

• Jamia Hamdard University, New Delhi, Delhi NCR

• ITM University, Gwalior, Madhya Pradesh

• Manipal College of Pharmaceutical Sciences, Manipal, Karnataka

• Panjab University, Chandigarh, Chandigarh

• Lovely Professional University, Jalandhar, Punjab

• Birla Institute of Technology and Science, Pilani, Rajasthan

• Nirma University, Ahmedabad, Gujarat

• Amity University, Noida, Uttar Pradesh

>> GNM नर्स कैसे बनेंगे पूरी जानकारी

M pharm Specialization

इस सब्जेक्ट्स में आप एम फार्मा कर सकते है:

• Pharmaceutics

• Pharmacology

• Pharmacognosy

• Medical Chemistry

• Clinical Pharmacy

• Pharmaceutical Technology

• Master of Public Health

• Pharmaceutical Administration

• Pharmaceutical market & Management

• Quality Assurance

>> BBA Course करके बिजनेस में एक्सपर्ट बने

M pharm Ke Baad Kya kare

एम फार्मा के बाद आपके लिए मेडिकल क्षेत्र में जॉब करने का सुनहरे मौके मिल जाते है। यहां मैंने कुछ हेल्थ स्केटर के नाम बताए है।

• रिसर्च

• सरकारी अस्पताल

• प्राइवेट अस्पताल

• फार्मास्यूटिकल कंपनी

• एजुकेशनल इंस्टीट्यूट

• फ़ूड मैन्युफैक्चरिंग कंपनी

• ड्रग्स एडमिनिस्ट्रेशन सेक्टर

• केमिस्ट शॉप

• पब्लिक सेक्टर कंपनी

इन सारे हेल्थ क्षेत्र के अलावा आप दूसरे किसी भी सरकारी क्षेत्र में काम कर सकते है। जैसे, रेलवे, बैंकिंग, आर्मी, नेवी, एयरफोर्स, यूपीएससी, इत्यादि।

>> 2 मिनट में Scholarship check kare

M pharm के बाद किन पदों में काम मिलेगा

इस कोर्स के बाद आपको निम्नलिखित पदों के काम मिल सकते है:

• प्रोफेसर

• साइंटिस्ट

• फार्मासिस्ट

• ड्रग इंस्पेक्टर

• ड्रग कंट्रोलर

• डेटा एक्सपर्ट

• ड्रग अनालीसिस्ट

• ड्रग एडमिनिस्ट्रेटर

• मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव

M pharm Salary Kitna Hai

एम फार्म के डिग्री धारकों को अछि सैलरी पैकेज मिलते है। जैसे जैसे आपके एक्सपीरियंस बढ़ते है सैलरी में भी बढ़ोतरी होती है।

आमतौर पर एक फ्रेशर को सुरुवात में 20,000 से 35,000 तक सैलरी मिलते है। और जैसे ही आपके एक्सपीरियंस बढ़ते है 40,000 से 70,000 तक मिल जाएगा।

>> ANM नर्स कैसे बनेंगे

Conclusion: दोस्तो, आज की इस पोस्ट में आपको M pharm के बारे में जानकारी दी गई है। आपको ये जानकारी m pharma kya hai, m pharm course details in hindi कैसा लगा कमेंट करके बताना।

अगर कोई सवाल या सुझाव है या फिर किसी विषय मे जानकारी चाहते है तो बताना हम उसके बारे में डिटेल्स से डिस्कस करेंगे। ऐसे ही जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब करे। और हमे सोशल मीडिया में फॉलो करें।

मिलते है अगले पोस्ट में। धन्यवाद!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *