सक्सेसफुल Coaching centre kaise khole?

Coaching centre kaise khole: यदि हम आपको पूछे कि हमारे देश को आगे बढ़ने सबसे महत्वपूर्ण भूमिका कौनसी सेक्टर की है?

तो लगभग सबी का जवाब होगा शिक्षा। जी हां शिक्षा ही एकमात्र ऐसी उपाय है जिसके ऊपर निर्भर करके हम अपने आने वाले कल तय कर सकते है।

शिक्षा ही हमारे मन मे आशा की किरण जगाए रखते है। यही हमे सही और गलत में फर्क करना सिखाती है।

यानी यूं कह तो बिना शिक्षा के सुशिक्षित समाज की कल्पना करना बेकार है।

Coaching centre kaise khole, coaching ka advertising
Coaching centre kaise khole

और इसी शिक्षा के लिए अछि स्कूल के साथ अछि कोचिंग सेंटर की जरूरत है।

जहां बच्चे को अछि शिक्षा के साथ अछि संस्कार भी मिले।

लेकिन गांव हो या शहर, आज भी अछि कोचिंग सेंटर की संख्या बहुत कम है।

ऐसे में यदि आप Coaching सेंटर खोलकर बिजनेस सुरु करना चाहते है तो आज की आर्टिकल आपके लिए है।

क्योंकि, आज हम बात करेंगे कि coaching centre kaise khole जाते है, उसकी रजिस्ट्रेशन प्रॉसेस क्या है, कितनी खर्च आते है, इत्यादी के बारे में। सरकार दे रही है बिजनेस के लिए लोन

तो आइए सुरु करते है सुरुवात से और बताते है कि कोचिंग सेंटर कैसे खोले और इसकी रजिस्ट्रेशन कैसे की जाए।

Coaching Centre kaise khole

कोचिंग सेंटर सुरु करने से पहले आपको  निम्नलिखित कुछ बातें ध्यान रखनी चाहिए।

एक सक्सेसफुल बिजनेस सुरु करने का सबसे जरूरी बातें

सक्सेसफुल कोचिंग सेंटर खोलने के लिए क्या चाहिए

इसमें से पहला है, कोचिंग सेंटर के लिए एक सही जगह का चयन करना।

जगह का चुनाव (Place): कोचिंग सेंटर खोलने की सबसे पहली स्टेप्स है सही जगह का चुनाव करना।

आप ऐसी जगह चुने जहां पर स्कूल, कॉलेज बगैरह हो तो अच्छा है।

और हमेसा कोशिश करे जहां ट्रैवेल करने की सुविधाएं अछि तरह से उपलब्ध है वहा कोचिंग सेंटर खोले।

अपनी आस पास अछि से निरीक्षण करें ताकि आपको पता चले की आपके क्षेत्र में किस तरह के शिक्षा व्यवस्था चल रहे है।

और आपको कौनसी चीज़ के ऊपर अधिक जोर देना होगा।

सही इंफ्रास्ट्रक्चर: अछि कोचिंग सेंटर के एक और लक्षण है अछि इंफ्रास्ट्रक्चर।

अछि इंफ्रास्ट्रक्चर के मतलब आप खूब सारे पैसे लगकर इंफ्रास्ट्रक्चर बनाएंगे ऐसी नहीं।

आप कोचिंग सेंटर को ऐसे बताये ताकि लोगो देखकर पता चले कि यहां पर उनके बच्चे अच्छे से बैठकर पढ़ाई कर सकते है।

इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार होने के बाद अब बारी है क्वालिफाइड शिक्षक की।

वेल क्वालिफाइड शिक्षक: मान लिए की अपने अछि जगह तथा इंफ्रास्ट्रक्चर बना लिए है।

परंतु योग्य टीचर के बिना आप कभी भी सक्सेसफुल कोचिंग बना नहीं सकते।

इसलिए आप अछि शिक्षकों की संधान करे और उनके साथ बात करके अपनी कोचिंग में नियुक्त करें।

ट्रांसपोर्ट व्यवस्था: ट्रांसपोर्ट व्यवस्था कहने का मतलब, आप जिस जगह पर कोचिंग बना रहे है वहां पहुंचने के लिए अछि परिवहन व्यवस्था होनी चाहिए।

क्योंकि, जो बच्चे दूर से आएंगे उनके लिए कुछ न कुछ सुविधा न हो तो वे आएंगे कैसे।

इसलिए ऐसी जगह चुने जहां आने जाने की सुविधाएं अछि हो।

फीस स्ट्रक्चर: आप अपनी आस पास के कोचिंग सेंटर को फॉलो करें, देखे की वे कौन से क्लास के लिए कितने फीस चार्ज कर रहे है।

ऐसा न करे कि पैसे के चक्कर मे मार्किट से ज्यादा फीस रख दिये और कोई एडमिशन ही न ले।

बल्कि आप चाहे तो सुरुवती दौर में फीस दूसरे कोचिंग से थोड़ा कम रख सकते है। इससे आपके कोचिंग इंस्टिट्यूट के और अधिक बच्चे आकर्षित होंगे।

और अधिक स्टूडेंट्स के मतलब अधिक पैसे।

कोचिंग सेंटर के लिए लागत

कोचिंग सेंटर के लिए कितने इन्वेस्टमेंट लगेगा ये निम्नलिखित चीज़ों के ऊपर निर्भर करते करेगा:

आप कौन से जगह कोचिंग सेंटर खोलेंगे, इंफ्रास्ट्रक्चर कैसे बनाएंगे, इसके प्रचार कैसे करेंगे, इत्यादि।

यदि आप शहर में कोचिंग सुरु करते है तो तुलनात्मक अधिक खर्च आएगी

क्योंकि, वहां यदि आपके खुद के रूम नहीं है तो किराए पे लेना होगा, शहर में बड़े होल रूम काफी मंहगाई में मिलते है।

इसके बाद, सुरुवती में शिक्षकों को अपनी हाथ से पेमेंट करना होगा।

इसके अलावा कोचिंग सेंटर की प्रसार के लिए प्रचार करना भी अनिवार्य है।

इसलिए आमतौर पर इन्वेस्टमेंट की बात करे तो 5000 से 30,000 तक खर्च आ सकता है।

एक बात ध्यान रखे, सुरुवात में कभी भी एक साथ अधिक पैसा नहीं लगाए।

जब आपके कोचिंग थोड़ा एस्टेब्लिश हो जाये तब उसमें थोड़ा थोड़ा करके इन्वेस्ट करें।

कोचिंग का प्रचार कैसे करे

आज के समय गांव हो या शहर किसी भी जगह कोचिंग सेंटर की कमी नहीं है।

इसलिए advertising करना बहुत ही जरूरी है इससे आपकी कोचिंग कम समय मे एक अछि पोजीशन पे जा सकती है।

निम्नलिखित तरीके से आप कोचिंग सेंटर का प्रचार कर सकते है:

• सोशल मीडिया: आज की समय सबसे अच्छी प्रचार माध्यम है सोशल मीडिया।

आप फेसबुक, व्हाट्सऐप, टेलीग्राम इत्यादि माध्यम से प्रचार कर सकते है।

• TV पे एडवरटाइजिंग करें: आप अपनी लोकल टीवी चैनल पे फ़ोन नंबर एवं पते के साथ प्रचार करें।

• पम्पलेट छपवाए: कोचिंग सेंटर के लिए पम्पलेट छपवाकर लोगो के बांटे।

स्कूल एवं दूसरे कोचिंग के आस पास अपनी कोचिंग के बैनर लगवाये

• लोकल न्यूज़पेपर: आपके लोकल में जो भी समाचार पत्र चलते उसमें एडवरटाइजिंग करें।

कोचिंग सेंटर रजिस्ट्रेशन प्रोसेस

यदि आप कोचिंग को एक फुल टाइम बिजनेस की तरह आगे ले जाना चाहते है तो इसकी रेजिस्ट्रेशन करना बहुत ही जरूरी है।

ये पढ़े >> सौ से अधिक फायदेमंद बिजनेस आइडिया

रेजिस्ट्रेशन की कोई निर्दिष्ट प्रॉसेस नहीं है हर राज्य में ये अलग अलग तरीके से की जाती है

अधिकतर राज्य में shop & establishment act के माध्यम से होती है।

फिरभी आप अपनी राज्य में थोड़ा जानकारी ले उसके बाद रेजिस्ट्रेशन करें।

कोचिंग से फायदा कितनी होगी

यदि फायदे की बात की जाए तो ये आपके काबिलियत पर निर्भर करेंगे।

यदि आप अछि से पढ़ाएंगे तो आपके काचिंग में अधिक संख्या में स्टूडेंट्स आएगा और इससे आपकी कमाई भी बढ़ेगी।

फिर भी यदि अनुमान लगाया जाए तो, आप इसे हर महीने 20000 से 40000 आसानी से कमा सकते है।

इसे ऐसे समझे, यदि आप तीन बैच पढ़ाते है और हर बैच में 30 जन बच्चे है तथा उन से 500 रुपए चार्ज करते है तो हर महीने 45000 रुपए कमा सकते है।

लेकिन ध्यान देने वाली बात ये है कि आप पहले महीने से ही इतने कमाने की बारे में न सोचें।

क्योंकि, कोई बिजनेस जीरो से ही शुरू होती है और समय के साथ बड़ा बनती जाती है।

इसलिए धर्य रखे और कोचिंग सेंटर की प्रसार के लिए कड़ी मेहनत करते रहिए।

आप सक्सेसफुल जरूर बनेंगे, आपके साथ हमारे शुभकामनाएं है।

दोस्तो, ये रहा आज की आर्टिकल coaching centre kaise khole.

यहां अपने जाना कि कोचिंग खोलने के लिए कितनी लागत चहिते, रजिस्ट्रेशन कैसे करे और इससे पैसे कैसे कमाए।

आपको ये आर्टिकल कैसी लगी ये कमेंट करके बताये और कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट में बताना न भूले।

और अपनी दोस्तो के साथ फेसबुक, व्हाट्सऐप पर शेयर करी, ताकि उन्हें भी ऐसे ही शानदार जानकारी मिले।

हमारे साथ जुड़े रहने के लिए हमारे ब्लॉग सब्सक्राइब करें एबं हमे सोशल मीडिया में फॉलो करें।

धन्यवाद! मिलते है अगली आर्टिकल में।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *