MBA Course Details in Hindi – जॉब, सैलरी पूरी जानकारी

अगर आप BBA ( Bachelor of Business Administration) करने के बाद MBA करने की सोच रही है तो आज की आर्टिकल आपके लिए।

क्योंकि आज मैं आपको बताऊंगा की MBA kaise kare, कोर्स करने के बाद कौन सा जॉब मिल सकते है, सैलरी कितने मिलेंगे इत्यादि के बारे में।

और हां अगर आप बी.बी.ए नहीं किये है, परंतु एम.बी.ए करना चाहते है तो निश्चिंत रहिए मैं आपको उसके बारे में भी बताऊंगा।

तो आइए सुरु करते है आज की आर्टिकल MBA course details in hindi और आपको बताते है कि एमबीए क्या है और कैसे किये जाते है।

MBA course details in hindi, mba kya hai, mba kaise kare
MBA Course Details in Hindi

MBA Course Details in Hindi – एमबीए की पूरी जानकारी

ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद बहुत सारे स्टूडेंट्स दुविधाओं में पड़ जाते है। उन्हें समझ नहीं आते कि आगे की पढ़ाई कौन सी दिशा में करना चाहिए ताकि आने वाली भविष्य उज्जवल हो। और समाज में एक मुकाम हासिल कर सके।

चिंतित मत हो आप के इसी परेशानियों को दूर करने के लिए ही मैं अपनी यह ब्लॉग बनाया। यहां पर मैं विभिन्न प्रकार के कोर्स के बारे जानकारी शेयर करता रहता हूं। इससे आपको अपनी करियर बनाने में मदत जरूर मिलेगा।

आइये ज्यादा बात न करके सीधा आज की टॉपिक पर आते है और आपको बताते है कि एमबीए क्या है और कैसे किये जाते है।

MBA kya hai (What is MBA in Hindi)

एमबीए दो साल की एक पोस्ट ग्रेजुएट यानी स्नातकोत्तर डिग्री है। इसे ग्रेजुएशन पूरा होने के बाद किया जाता है।
इसमें चार सेमिस्टर या फिर दो साल की एनुअल एग्जाम होते है।

जिन लोग बिजनेस की क्षेत्र में अपनी करियर बनाना चाहते है उनके लिए एमबीए सबसे अछि कोर्स है। इस कोर्स करने के बाद आप बिजनेस लीडर और एंटरप्रेन्योरशिप में महारत हासिल कर सकते हो।

इस कोर्स में मार्केटिंग, मैनजमेंट, फाइनेंस, कंसल्टिंग, एंटरप्रेन्योरशिप, IT मैनजमेंट, स्ट्रेटेजिक मैनजमेंट से लेकर इंटरनॅशनल मैनेजमेंट इत्यादि के बारे गहराई से समझाया जाता है।

इतनी तक तो आप समझ लिए होंगे कि एमबीए क्या है। अब आइये जानते है कि एमबीए कैसे करे और इसके लिए क्या योग्यता आबश्यक है।

MBA ka Full Form

MBA का full form है Master of Business Administration. यह एक स्नातकोत्तर डिग्री प्रोग्राम है खासकर उन स्टूडेंट्स के लिए जो कि बिजनेस मैनेजमेंट में अपनी भविष्य बनाने में आशा रखते है।

MBA ke liye Qualifications (एमबीए के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए)

अगर आप एमबीए करना चाहते है तो आपको बी.बी.ए यानी बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन से स्नातक यानी ग्रेजुएशन करना पड़ेगा। उसके बाद ही आप एमबीए कर सकते हो।

परंतु अगर आप बी.बी.ए से नहीं किये है तो भी इस कोर्स के लिए आपको योग्य माना जाता है। इसके लिए, आपको किसी भी सब्जेक्ट लेकर ग्रेजुएशन करना पड़ेगा। लेकिन इसमें कुछ शर्त है। इसलिए आर्टिकल के आखरी तक ध्यान से पढ़िये।

Marks (अंक)

एमबीए कोर्स में एडमिशन लेने के लिए नंबर की बात की जाए तो, किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज से आपको ग्रेजुएशन में कम से कम 50 प्रतिशत नंबर लाना होगा।

अगर आप किसी आरक्षित वर्ग से है तो ग्रेजुएशन में आपको 45 प्रतिशत नंबर के साथ पास करना जरूरी है।

Subjects (विषय)

अगर आप सोच रही है कि मैं तो बी बी ए नहीं किया तो मैं कैसे एमबीए कर सकती हुं। निश्चिंत रहिये आप भी एमबीए कर सकते है।

यह मायने नहीं रखता की आप कौन सी सब्जेक्ट लेकर स्नातक हुए है। बशर्ते आप को ग्रेजुएशन 50 प्रतिशत नंबर के साथ पास करना होगा।

Age (आयु)

आयु की बात की जाए तो एमबीए डिग्री के लिए कोई निर्दिष्ट आयु निर्धारित नहीं किया गया है। आपके आयु जितनी भी क्यों न हो आप इस कोर्स के लिए योग्य है। लेकिन आपके पास ग्रेजुएट डिग्री रहना चाहिए।

MBA kaise kare

अगर आपको पता नहीं के एमबीए कितने तरीके से किये जाते है इस चरण आप स्किप मत कीजिये। क्योंकि यहां मैं वह सारे तरीका बताऊंगा जिससे आपको एमबीए डिग्री हासिल करने में कोई दिक्कत नहीं होगी।

आइये जानते है एमबीए कितने टाइप के होते है (Type of MBA) और उसे करने में कितने फीस लग सकता है। पहले आइये एमबीए कितने प्रकार के होते है वह जान लेते है।

• रेगुलर एमबीए: जिन लोग रेगुलर एमबीए करना चाहते है उनके लिए बता दूं, आपको स्कूल की तरह हर दिन क्लास अटेंड करना पड़ेगा। इस केस में सबसे ज्यादा कोर्स फीस आते है।

• डिस्टेन्स एमबीए: अगर आप यह कोर्स डिस्टेंस से करना चाहते है तो आप को हर दिन क्लास अटेंड करने की जरूरत नहीं।

आपके पढ़ाई के सारे मैटेरियल्स बाई पोस्ट आपके घर पर भेज दिया जाता है। आपको सिर्फ एग्जाम के समय कॉलेज जाकर एग्जाम देना होगा। डिस्टेंस एमबीए में रेगुलर से लगभग आधा कोर्स फीस होते है।

• ऑनलाइन एमबीए: अभी के समय आफिस के काम से लेकर पढ़ाई तक सारे काम ऑनलाइन होता है। एमबीए के कोर्स में भी इस नियम फिट बैठता है।

अगर आप ऑनलाइन एमबीए करना चाहते है तो आपको कॉलेज जाने की जरूरत नहीं। पढ़ाई से लेकर सकरे प्रोसेस ऑनलाइन हो जाएगा।

हर क्लास के लेक्चर आपको ऑनलाइन मिलेंगे, ऑनलाइन ही आपके सारे डाउट क्लियर होगा और सारे एग्जाम आप ऑनलाइन ही दे सकेंगे।

• पार्ट टाइम एमबीए: अगर आप पार्ट टाइम एमबीए कोर्स के नाम से आश्चर्य हो रही है तो आपको बता दूं यह रेगुलर कोर्स की तरह ही समान वैध है।

यह खास कर उन लोगो के लिए लाया गया है, जिन्होंने पहले से ही किसी जॉब के साथ जुड़े हुए है। लेकिन अभी वह अपनी स्केल बढ़ाने के लिए एमबीए करना चाहते है।

• एग्जीक्यूटिव एमबीए: इस टाइप के कोर्स हर किसी के लिए नहीं है। इसमें एडमिशन लेने के लिए आपके पास कम से कम तीन से चार साल की एक्सपीरिएंस सर्टिफिकेट होनी चाहिए वह भी किसी मैनेजर की पोस्ट में।

यह रहा एमबीए की टाइप्स। आप किस तरह के एमबीए कोर्स करना पसंद करेंगे यह आपकी ऊपर निर्भर करती है।

थोड़ी ही देर में हम फीस के बारे में भी जान लेंगे। लेकिन आइये उससे पहले एंट्रेंस एग्जाम के बारे में बात कर लेते है।

MBA के लिए एंट्रेंस एग्जाम

एमबीए कोर्स में आप दो तरीके से एडमिशन ले सकते है। पहला है, सीधा एडमिशन और दूसरा है, एंट्रेंस एग्जाम देकर एड्मिसन।

अगर आप डायरेक्ट एडमिशन लेना चाहते है तो आपको कोई एंट्रेंस एग्जाम देने की जरूरत नहीं। आमतौर पर अछि एमबीए कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए आपको प्रवेश परीक्षा देना पड़ता है।

नीचे कुछ प्रसिद्ध एमबीए एंट्रेंस एग्जाम के बारे में बताया गया है।

CAT: इंडिया में जितने भी एमबीए एंट्रेंस एग्जाम होते है उनमें से सबसे प्रसिद्ध है CAT. इस प्रवेश परीक्षा के नंबर को देखते हुए पूरे भारत के अछि अछि एमबीए कॉलेज में एडमिशन लिया जाता है।

CMAT: CAT के बाद दूसरे सबसे प्रसिद्ध एंट्रेंस एग्जाम है CMAT. इस एग्जाम के स्कोर को देखते हुए कम से कम 1000 कॉलेज में एडमिशन लेते है।

XAT: तीसरे सबसे प्रसिद्ध एमबीए एंट्रेंस एग्जाम है XAT. इसे XLRI जमशेदपुर द्वारा संचालित किया जाता है। इसके स्कोर से लगभग 800 कॉलेज में कॉउंसिल होती है।

इन एग्जाम के अलावा भी MAT, NMAT, IIFT, MAH CET, IBSAT, SNAP इत्यादि एग्जाम बहुत प्रसिद्ध है। इन सारे बताई गई एग्जाम के अलावा भी एमबीए कोर्स में प्रवेश हेतु बहुत सारे एंट्रेंस एग्जाम लिया जाता है।

MBA कोर्स की अवधि (Duration of MBA)

दूसरे पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स की तरह एमबीए भी दो साल की कोर्स है। इस दो साल में चार से छह सेमिस्टर लिया जाता है।

MBA ki Fees Kitni Hai

एमबीए की फीस की बात की जाए तो अलग अलग टाइप के एमबीए के लिए अलग अलग तरह के फीस होते है। और यह कॉलेज के ऊपर निर्भर करती है कि वह आप से कितनी रुपिया कोर्स फीस लेंगे।

आमतौर पर, रेगुलर एमबीए कोर्स के लिए सबसे अधिक फीस लगते है: लगभग 7 लाख से लेकर 20 लाख रुपए तक।

डिस्टेंस एमबीए कोर्स में यही फीस लगभग आधे से भी कम हो जाते है।  साधारणतः इसमें 80 हज़ार से 1.5 लाख तक फीस लग जाते है।

परंतु अगर आप ऑनलाइन एमबीए करने की सोच रही है तो आपको रेगुलर एमबीए से कुछ कम कोर्स फीस देना पड़ेगा।

आप लोगो के लिए एक खुश खबर यह है कि, एमबीए करने के लिए आपको आसानी से एजुकेशन लोन मिल जाते है।

इसलिए अगर आप एमबीए करने की ठान लिए है परंतु आपके परिवार की फाइनेंसियल स्थिति ठीक नहीं है तो बैंक से एजुकेशन लोन के लिए अप्लाई कर सकते है।

MBA ke Subject

हर कॉलेज अपने हिसाब से एमबीए सब्जेक्ट्स आफर करते है। नीचे फुच प्रसिद्ध सब्जेक्ट्स बताया गया है जो कि ज्यादातर एमबीए कॉलेज आफर करते है।

• मार्केटिंग

• फाइनेंस मैनेजमेंट

• बिजनेस प्लानिंग

• एच आर मैनेजमेंट

• बिजनेस लॉ

• एंट्रेपरेनेउरशिप

• बिजनेस कम्युनिकेशन

• ऑर्गेनाइजेशन बिहेवियर

• रिटेल मैनेजमेंट

• प्रिंसिपल्स ऑफ मैनेजमेंट

• कंप्यूटर एप्लीकेशन

• कम्युनिकेशन स्किल

• बिजनेस एनवायरनमेंट

• टैक्सेशन

• इकोनॉमिक्स

सेमिस्टर वाइज सिलेबस की बात की जाए तो एमबीए दो साल की कोर्स होने की नाते दो साल में चार से छह सेमिस्टर होते है।

1st – सेमिस्टर

ऑर्गेनाइजेशन बिहेवियर
मैनेजरियल इकोनॉमिक्स
फाइनेंसियल एकाउंट
क्वांटिटेटिव मेथड्स
बिजनेस कम्युनिकेशन
ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट
इन्फॉर्मेशनटेक्नोलॉजी मैनजमेंट
मार्केटिंग मैनेजमेंट

2nd – सेमिस्टर

मैनजमेंट साइंस
फाइनेंसियल मैनजमेंट
प्रोडक्शन एंड ऑपरेशन्स मैनजमेंट
ऑर्गेनाइजेशन इफेक्टिवनेस एंड चेंज
इकनोमिक एनविरोनमेंट ऑफ बिजनेस
मार्केटिंग रिसर्च
मैनजमेंटऑफ इन्फॉर्मेशन सिस्टम
मैनेजमेंट अकाउंटिंग

3rd – सेमिस्टर

स्ट्रेटेजिक एनालिसिस
लीगल एनविरोनमेंट एंड साइंस
बिजनेस एथिक्स एंड कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी

4th – सेमिस्टर

प्रोजेक्ट स्टडी
इंटरनॅशनल बिजनेस एनविरोनमेंट
स्ट्रेटेजिकमैनजमेंट

एमबीए कोर्स की पूरी सिलेबस जानने के लिए इस पीडीएफ डाउनलोड करे MBA Syllabus in Hindi

MBA Karne ke Faide

एमबीए करने की कई सारे फायदे आपको मिल जाते है जैसे:

• एमबीए करने के बाद आप जिस भी जगह काम करेंगे वहां दूसरे एम्प्लॉई के तुलना में आपके सैलरी में बढ़ोतरी ज्यादा देखने को मिलेगी।

• एमबीए कोर्स पूरा होने के बाद जॉब मिलने की संभावना कई गुना बढ़ जाती है।

• आप देखे होंगे जब भी प्रमोशन के बात आती है तब अधिक योग्यता और जिम्मेदारी लेने वाले कर्मचारी को ही प्राथमिकता मिलते है। और इन दोनों में एमबीए होल्डर काफी आगे है।

• बिजनेस की क्षेत्र में आपके ज्ञान काफी ज्यादा हो जाती है। आप चाहे तो अपनी खुदकी बिजनेस सुरु कर सकते हो

अगर आपके पास खुदकी व्यापार सुरु करने के लिए कोई अछि बिजनेस आइडिया नहीं है तो आप यह आर्टिकल पढ़ सकते है। यहां मैंने सौ से भी ज्यादा बिजनेस आइडिया के बारे में बताया हूं।

• इस कोर्स की मदत से आपकी पर्सनल ग्रोथ से लेकर फाइनेंसियल ग्रोथ तक सम्पूर्ण विकास होती है।

• एमबीए की मदत से आप एक एंट्रेपरेनेउर (entrepreneur) के साथ एक अछि बिजनेस लीडर बन सकते है।

क्योंकि, इसमें दूसरे कला के साथ कम्युनिकेशन स्किल सिखाया जाता है। इससे आपको पब्लिक स्पीकिंग, ऑफिसियल मीटिंग इत्यादि में मदत मिलते है।

• दूसरे कोर्स की तुलना में एमबीए में कंपेटेशन बहुत कम होता है। इसलिए काम पाने की संभावना अधिक है। आप चाहे तो विदेशों में भी काम कर सकते है।

MBA ke Baad Kya Kare (Scope of MBA)

एमबीए कम्पलीट होने के बाद जॉब के लिए आपको सोचने की जरूरत नहीं। एमबीए के बाद आपके सामने दुनिया के टॉप कंपनियों में काम करने की दरवाजा खुला जाते है।

आप चाहे तो एमबीए के बाद गवर्नमेंट नौकरी भी कर सकते है। लेकिन ज्यादातर स्टूडेंट्स हाई सैलरी पैकेज के लिए कंपनी में जॉब ले लेते है।

अगर आप MBA ke baad government job की बात करे तो आप बैंक में पर्सनल ऑफिसर, मार्केटिंग मैनेजर, बिजनेस एनालिस्ट, मैनेजर ट्रेनी ऑफिसर, जनरल मैनेजर, लेक्चरर इत्यादि।

इन सारे जॉब के अलावा आप वर्ल्ड के टॉप कंपनी में काम कर सकते है। नीचे कुछ टॉप कंपनी के नाम बताया गया है जहां काम करना हर किसी का सपना होता है।

Top companies for MBA

AmazonMicrosoft
MahindraSamsung
RelianceFlipkart
HDFC BankICICI Bank
TATAInfosys
BajajWipro
BCGCipla
DeloitteApple
GooglePhilips
AvendusAxis Bank
Asian PaintsNerolac Paints
AirtelSuzuki
CitibankHSBC
MicrolandTAS
CrisilEXL

MBA Karne ke Baad kitni Salary Milti Hai

अगर आप एमबीए किये है तो आपको सैलरी लेकर ज्यादा सोचना नहीं पड़ता। यह कोर्स करने के बाद अछि खासी हाई सैलरी पैकेज मिल जाते है।

आइए जानते है कि एमबीए करने के बाद कितनी सैलरी मिलती है:

• डेटा एनालिस्ट मैनेजर (Data Analyst Manager): 13 लाख प्रति वर्ष।

• प्रोडक्ट मैनेजर (Product Manager): 10 से 15 लाख प्रति वर्ष।

• फाइनेंस मैनेजर (Finance Manager): 10 लाख प्रति वर्ष।

• इंफ्रास्ट्रक्चर मैनेजर (Infrastructure Manager): 10 लाख प्रति वर्ष।

• मार्केटिंग मैनेजर (Marketing Manager): 10 लाख प्रति वर्ष।

• प्रोजेक्ट मैनेजर (Project Manager): 13 लाख प्रति वर्ष।

• सेल्स मैनेजर (Sales Manager): 10 लाख प्रति
वर्ष।

• रिस्क मैनेजर (Risk Manager): 10 लाख प्रति वर्ष।

• आई टी एबं सिस्टम मैनेजर (IT & System Manager): 8 लाख आरती वर्ष।

• ट्रांसपोर्ट एबं लोगिस्टिक मैनेजर (Transport & Logistics Manager): 5 लाख प्रति वर्ष।

• डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर (Digital Marketing Manager): 7 लाख प्रति वर्ष।

• टेलीकॉम मैनेजर (Telecom Manager): 7 लाख प्रति वर्ष।

• एन जी ओ मैनेजर (NGO Manager): 4 लाख प्रति वर्ष।

• एडवरटाइजिंग सेल्स मैनेजर (Advertising Sales Manager): 9 लाख प्रति वर्ष।

इन सारे कोर्स अलावा दूसरे कोर्स में भी अछि खासी स्लरी पैकेज मिलते है। इसके साथ जैसे जैसे आपके एक्सपीरिएंस बढ़ती है सैलरी भी बढ़ती जाती है।

यह रहा आज की आर्टिकल MBA Course Details in Himdi. यहां अपने जाना MBA kya hai और MBA kaise kare, इस कोर्स करने के बाद स्कोप क्या है, कितनी सैलरी मिलती है, इत्यादि।

इस आर्टिकल से आपको क्या जानने को मिला है यह कमेंट करके हमे बताये। अगर आपके मन में एमबीए कोर्स से जुड़े कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट करके हमे बताए।

हम उसपर काम करेंगे। और इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ फेसबुक, ट्विटर इत्यादि सोशल मीडिया में शेयर करना न भूले।

मिलते है अगली पोस्ट में। धन्यवाद!

Read More >> GNM Nurse कैसे बने?

> DMLT कोर्स की पूरी जानकारी

> डी फार्मा क्या है और कैसे करें?

> बी फार्मा कैसे करें?

> फार्मासिस्ट कैसे बनें?

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *