Pharmacist Kaise Bane? – 8 स्टेप में पूरी जानकारी

क्या आप Pharmacist बनना चाहते है? अगर हां यह आर्टिकल आपके लिए बहुति लाभदायक होने वाले है।

क्योंकि, इस आर्टिकल पे आप जानेंगे कि Pharmacist kaise bane जाते है – के बारे में।

इसके साथ जानेंगे कि फार्मासिस्ट बनने के लिए कौन सा कोर्स करना चाहिए, कौन सा कॉलेज बेहतर रहगा, कोर्स की फीस कितने की है, कोर्स के अवधि कितने साल की है, इत्यादि।

मैं आपको विश्वास दिलाता हूं, एकबार जरूर इस आर्टिकल को सुरु से लेकर आखरी तक पढ़े।

उसके बाद आपके मन में, फार्मेसी से जुड़े कोई भी सवाल नहीं होगा।

pharmacist kaise bane, how to become pharmacist in hindi

आज के समय हर एक क्षेत्र में कंपीटिशन काफी बढ़ गयी है। मगर फार्मेसी एक ऐसी क्षेत्र है जिसके डिमांड कभी भी खत्म नहीं होगा।

क्योंकि, इस पेशे के समंध सीधा लोगो के स्वास्थ्य के साथ जुड़े हुए है।

जब भी कोई बीमार होते है तब डॉक्टरों के साथ साथ फार्मासिस्ट के भी जरूरत पड़ती है।

और आप तो जानते ही है कि, आज की समय लोगो के सेहत बिना दावा के अछि रहना मुश्किल बन चुका है।

और जब बात दवाई का आ जाते तब सबसे पहले फार्मासिस्ट की जरूरत पड़ती है।

आइए बिना किसी देर किये सुरु करते है,

आज हम जानेंगे:

1. फार्मेसी क्या है?
2. फार्मासिस्ट क्या है?
3. फार्मासिस्ट बनने के लिए कट योग्यता चाहिए?
4. फार्मासिस्ट बनने के लिए कौन सा कोर्स करना होगा?
5. कोर्स के एडमिशन प्रोसेस।
5. कोर्स के फीस कितना लगेगा?
6. फार्मेसी के लिए बेस्ट कॉलेज कौन सा है?
7. फार्मासिस्ट बनने के बाद क्या जॉब मिलेगा?
8. फार्मासिस्ट बनने के बाद कितने सैलरी मिलेगा?

आइए सुरु करते है आज की सफर और जानते है pharmacist कैसे बने।

Pharmacist Kaise Bane

लेकिन फार्मासिस्ट कैसे बनते है यह जानने से पहले आइए जानते है की फार्मेसी क्या है?

Pharmacy क्या है:

फार्मेसी, चिकित्सा विज्ञान की वो शाखा है जहां दवाई के बारे सिखाया पढ़ाया जाते है। जैसे:

• मरीजों के लिए नए नए दवाई का अविष्कार करना।

• कम मूल्य में ज्यादा असरदार दवाई कैसे बनाया जा सके उसके बारे रिसर्च करना।

• मनुष्यों के शरीर में दवाई काम कैसे करती है उसके बारे में जानकारी देना।

• दवाइयों के साइड इफ़ेक्ट क्या है और इससे कैसे बचें उसके बारे में भी ज्ञान प्रदान किये जाते है।

• इसके अलावा भी दवाई समन्धित सारे जानकारी प्रदान की जाती है।

आशा करता हूं आपको समझ मे आ गया है कि फार्मेसी क्या है।

आइये अब जानते है कि फार्मासिस्ट क्या है? क्योंकि, फार्मासिस्ट बनने से पहले हमें जानना जरूरी है कि यह है क्या चीज़।

Pharmacist क्या है:

फार्मासिस्ट उन को कहगे जिहोंने फार्मेसी के कोई भी कोर्स किये है। और फार्मेसी के पेशे के साथ जुड़े है।

फार्मासिस्ट को केमिस्ट और ड्रगिस्ट के नाम से जाने जाते है।

यह लोग फार्मेसी के कोई भी कोर्स किये होते है। और फार्मेसी के पेशे के साथ जुड़े है।

और इन लोगो को दवाई उपयोग, इफेक्ट्स और दवाई कैसे काम करता है, इत्यादि बारे में जानकारी होता है।

Pharmacist बनने के लिए क्या योग्यता चाहिए:

फार्मेसी के कोर्स करने के लिए PCI (Pharmacy Council of India) द्वारा कुछ मानदंड निर्धारण किया गया है।

फार्मासिस्ट बनने के लिए जितने भी मानदंड है वह सारे विस्तार से नीचे बताया गया है।

1. शिक्षिक योग्यता (Educational qualification):

इस कोर्स के लिए PCI द्वारा जो नुंयतम शिक्षिक योग्यता निर्धारण किया गया है वो है 12 th पास।

और 12 th में छात्रों के मैन सब्जेक्ट्स फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी या फिर

फिजिक्स, केमिस्ट्री, और मैथमेटिक्स भी होगा तो भी वो pharmacy के कोर्स के लिए आवेदन कर सकते है।

2. अंक (Marks):

जो भी स्टूडेंट्स क्लास 12 th के बाद फार्मेसी करना चाहते है उन्हें PCM या PCB लेकर 45 प्रतिशत से 50 प्रतिशत मार्क्स लेकर ओएस करना होगा।

3. आयु (Age):

वैसे तो फार्मेसी कोर्स में प्रवेश करने के लिए आयु की कोई ऊपरी सीमा नहीं है।

परंतु, प्रवेश करने के लिए नुंयतम आयु है 17 साल। अगर आप के आयु 17 साल के नीचे है तो आप को फार्मेसी कोर्स के लिए उपयुक्त माना नहीं जाएगा।

फार्मासिस्ट बनने के लिए कौन सा कोर्स करना होगा:

अगर आप फार्मासिस्ट बनना चाहते है तो इन दोनों में से कोई से भी एक कोर्स कर सकते है।

1. D.pharma (Diploma in Pharmacy):

यह एक डिप्लोमा कोर्स है। इस कोर्स का समय काल है 2 साल 3 महीना।

इन दो सालों में आप को थिअरी के साथ प्रैक्टिकल ज्ञान का उपलब्ध कराया जाता है।

उसके बाद 3 माह की इंटर्नशिप किसी भी अस्पताल से करना पड़ता है।

डी फार्मा के बारे में डिटेल्स से जानने के लिए इस आर्टिकल को पढ़े 👉  D pharma kaise kare?

2. B.pharm (Bachelor of Pharmacy):

बी फार्मा एक डिग्री कोर्स है। इस कोर्स के समल काल 4 साल की है।

इन चार सालों में छात्रों को दवाई के बारे में अछि से सिखाया जाता है।

अगर आप बी फार्मा करना सहहते है तो इस आर्टिकल को जरूर पढ़े 👉 B pharma kaise kare?

फार्मेसी कोर्स के एडमिशन प्रोसेस:

फार्मेसी के एडमिशन के लिए अगल अलग राज्य में अलग अलग नाम से एंट्रेंस एग्जाम लिया जाता है।

• WBJEE – पश्चिम बंगाल में एंगीनियरिंग और फार्मेसी कोर्स में प्रवेश करने के लिए इस एग्जाम देना पड़ता है।

अगर कोई B pharma करना चाहते है तो उसे WBJEE के एग्जाम देना पड़ेगा।

और अगर कोई D pharma करना चाहते है तो वे WBJEE एग्जाम दे सकते है।

• UPSEE – ठीक उसी तरह उत्तर पदेश में, फार्मेसी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए UPSEE एग्जाम देना पड़ेगा।

• BCECE – अगर आप बिहार से है तो BCECE एग्जाम देकर बी फार्मा में एंट्री ले सकते है।

ध्यान रखे कुछ इंस्टीट्यूटूट में नंबर के ऊपर भित्ति करके एडमिशन लिया जाता है।

कोर्स के फीस कितना लगेगा:

फार्मेसी कोर्स के फीस कितनी होगी यह निर्भर करती है कोर्स के ऊपर।

यानी आप कौनसा कोर्स करेंगे उसके ऊपर। अगर आप बी फार्म करते है तो फीस ज्यादा लगेगा।

और अगर आप डी फार्मा करना चाहते है तो उसके लिए कम खर्च होगी।

कोर्स के अलावा, कॉलेज के ऊपर फीस निर्भर करती है।

अगर सरकारी कॉलेज हो तो B pharm करने के लिए लगभग 50 हज़ार से 1 लाख तक के फीस लग जायेगा।

और अगर प्राइवेट कॉलेज करेंगे तो 2 लाख से लेकर 3.5 लाख तक लग जाते है।

वही डी फार्मा के लिए सरकारी कॉलेज में 15 हज़ार से 30 हज़ार रुपिया लग जायेगा।

और प्राइवेट कॉलेज में यही कोर्स के लिए 1 लाख से 2 लाख रुपिया लग जायेगा।

बेस्ट फार्मेसी कॉलेज कौन सा है:

आप जिस भी फार्मेसी कॉलेज भर्ती होना चाहते है, उस कॉलेज के बारे अछि से जानकारी ले।

जैसे, उस कॉलेज के रैंकिंग कितना है, उसके रिव्यु कैसा है इत्यादि गूगल सर्च कर सकते है।

या फिर उस कॉलेज के छात्रों के साथ बात करके उन से जान सकते है।

मैंने नीचे कुछ टॉप फार्मेसी कॉलेज के नाम दिया हूं:

• Jamia Hamdard, New Delhi.

• Vital Institute of Technology and Science, Pilani, Rajasthan

• Institute of Chemical Technology, Mumbai.

• LPU, Punjab.

• The Maharaja Sayajirao University of Baroda, Vadodara, Gujarat.

• Manipal College of Pharmaceutical Sciences, Manipal, Karnataka.

• Delhi Pharmaceutical Sciences and Research University, New Delhi.

• L.M. College Of Pharmacy, Ahmedabad

• Sri Ramachandra Institute of Higher Education and Research, Tamil Nadu.

• JSS College Of Pharmacy Ooty, Tamil Nadu.

फार्मासिस्ट बनने के बाद क्या जॉब मिलेगा:

फार्मेसी के कोर्स पूरा होने के बाद आप के सामने अलग अलग जॉब के अवसर खुल जाता है।

केंद्र सरकार और राज्य सरकार समय समय पर वेकैंसी लाते रहते है।

औ वे सारे एग्जाम देकर नीचे बताये गए पदों में कम कर सकते है,

ड्रग्स इंस्पेक्टर, ड्रग एनालिस्ट, ड्रग टेक्नीशियन, प्रोफेसर, मेडिकल ट्रांसक्रिप्शन, ड्रग थेरेपिस्ट, ड्रग एडमिनिस्ट्रेटर, टेक्निकल फार्मासिस्ट, हेल्थ फार्मासिस्ट, अस्पताल फार्मेसी इत्यादि।

यम सारे काम के अलावा निजी संस्थानों में भी ड्रग एनालिस्ट, ड्रग तकनीशियन, हॉस्पिटल फार्मेसी, नर्सिंग होम, ड्रग प्रोडक्शन कंपनी, रिटेल कंपनी, मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव इत्यादि के रूप में काम कर सकते है।

इन सारे काम के अलावा भी, अगर आप चाहे तो खुद की मेडिसिन शॉप खुलकर व्यापार सुरु कर सकते है।

फार्मासिस्ट बनने के बाद कितने सैलरी मिलेगा:

किसी नौकरी क्यों न हो उसकी सैलरी नौकरी के पदो के ऊपर और एक्सपीरियंस के ऊपर निर्भर करते है।

जैसे जैसे काम के एक्सपीरियंस बढ़ने लगेगा वैसे वैसे आपके सैलरी भी बढ़ने लगेंगे।

Read More >> High paying jobs in india

फिर भी एक नए फार्मासिस्ट को 15 से 20 हज़ार रुपिया किसी भी जगह मिल जाता है।

मगर एक्सपीरियंस होने के बाद धीरे धीरे सैलरी बढ़ना सुरु हो जाता है।

वही अगर किसी को सरकारी जॉब लग जाये तो सुरु से 25 से 30 हज़ार तक मिल जाता है।

दोस्तो, यह रहा आज की आर्टिकल Pharmacist kaise bane.

आशा करता हूं आज की आर्टिकल से आपको कुछ नई सीखने को मिला है।

अगर आप को इस आर्टिकल से मदत मिला तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

और लाल धंटे निशान को दबाकर हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब करना न भूले।

इससे जब भी मैं कोई नई आर्टिकल ओब्लिश करूंगा आप को तुरंत नकटिफिकेशन चला जायेगा।

और आप उसके फायदे सबसे पहले उठा पाएंगे।

मिलते है अगली पोस्ट में, धन्यवाद!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *