मसाला बिजनेस सुरु करने की पूरी जानकारी (Spice Business Hindi)

हमारे भारत देश कई तरह के चटपटी मसाले के लिए पूरे विश्व मे फेमस है।

यह एक ऐसा उत्पाद है जिसके उपयोग से किसी भी खाना स्वादिष्ट बन जाते है।

इसे पढ़े: Medical Store कैसे खोले

इसके अलावा भी औषधि, प्रसाधन सामग्री और सुगंधि द्रव्यों बनाने के लिए बड़े पैमाने में मसाला इस्तेमाल किया जाता है।

इसलिए, आज हो या आने वाले सौ साल बाद मसाला की मांग बढ़ेगा परंतु घटेगा नहीं।

ऐसे में आप मसाला बिजनेस सुरु करके अछि खासी पैसा कमा सकते है।

यदि आपको पता नहीं के मसाला उद्योग कैसे शुरू करें तो आज की आर्टिकल आपके लिए है।

यहां आप जानेंगे कि मसाला बिजनेस कैसे सुरु करेंगे, सुरु करने में कितना लागत लगेगा, कितना फायदा होगा इत्यादि।

मसाला उद्योग कैसे शुरू करें, मसाला बिजनेस कैसे सुरु करे, masala business kaise kare
मसाला उद्योग कैसे शुरू करें

आशा करता हूं इस आर्टिकल पढ़ने के बाद आपके मसाला उद्योग से जुड़े सारे सवाल के जवाब मिल जाएगा।

मसाला व्यापार सुरु करने की पूरी जानकारी (Spice Business hindi)

वारेन बफेट का कहना है की लोगो को अपने ज़िंदगी मे जल्दी अमीर बनना है।

इसलिए वह बिजनेस में आ जाते है, और हर वक्त पैसे के पीछे भागते रहते है लेकिन एफर्ट नहीं डालते।

इस के कारण ज्यादातर लोग बिजनेस में फैल हो जाते है।

इसलिए, पैसे के पीछे न भागकर एक सक्सेसफुल बिजनेस कैसे सुरु करते है इसके बारेमें अछि से जानना चाहिए।

तो आइए सीधा टॉपिक पर आते है और आपको बताते है कि मसाला उद्योग सुरु करने की पूरे प्रोसेस जैसे;

मसाला बिजनेस के लिए कितने रुपिया इन्वेस्ट करने होंगे, कौनसा मेसिनरी खरीदना होगा, पैकेजिंग कैसे करेंगे, सेल कैसे करेंगे और कौनसा लाइसेंस की जरूरत पड़ेगी इत्यादि।

मसाला बिजनेस कैसे सुरु करें ? पूरे जानकारी

मैं आपको मसाला बिजनेस सुरु करने का दो तरीका बताऊंगा।

पहला है, कम लागत में मसाला व्यवसाय।

दूसरा है, masala manufacturing unit लगाकर मसाला बिजनेस

कम लागत में मसाला बिजनेस कैसे करे

आप जिस भी मसले के व्यापार सुरु करने जा रहे है सबसे पहले उस प्रोडक्ट के बारे में रिटेल दुकान तथा लोगो से सही जानकारी ले।

इससे आपको उस प्रोडक्ट के डिमांड के बारेमें थोड़ा बहुत अंदाज़ हो जाएगा।

जरूर पढ़ें >>  101 से भी अधिक बिजनेस आइडिया।

अगर आपके पास इन्वेस्ट करने के लिए ज्यादा रुपिया नहीं है तो, आप रेडीमेड पिसे पिसाई मसाला खरीदकर अपना बिजनेस सुरु कर सकते है।

इसके लिए आपको कम से कम 60 हज़ार रुपियों की जरूरत पड़ेगी।

आप इन रुपियों से बाजार में जिस भी मसाले की डिमांड सबसे ज्यादा है वह खरीदे।

Note: बाजार में सबसे ज्यादा चलने वाले मसाला है हल्दी, मिर्ची, और धनिया।

आप इन तीनो प्रोडक्ट से अपने व्यापार सुरु कर सकते है नहीं तो आप अपने मुताबिक सामान चुन सकते है।

60 हज़ार में से आप पंद्रह हजार करके तीनो ही पिसाई किया हुए मसाला खरीदे।

जैसे, पंद्रह हज़ार के हल्दी + पंद्रह हज़ार के मिर्च + पंद्रह हज़ार के धनिया खरीदे।

अब दुकानों में उन प्रोडक्ट्स सेल करना सुरु करें। इससे आपको सेलिंग के साथ साथ मार्केटिंग के कई सारे तरीके धीरे धीरे समझ आने लगेंगे।

और बांचे हुए पंद्रह हजार रुपये वर्किंग कैपिटल के तौर पर रख दीजिए।

क्योंकि, शुरू में क्रेडिट पर किसी को शामान देना हो या फिर किसी को कुछ पैसा पेमेंट करना हो तो इसमें से ही करना होगा।

जब आप मार्किट को अछि से समझ जाएंगे उसके बाद मसाला बिजनेस का मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाकर बड़ा कर सकते है।

>> पानी पूरी बिजनेस कैसे करें

masala manufacturing process (मसाला मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस)

मसाला मैन्युफैक्चरिंग करने के लिए आपको निम्नलिखित स्टेप्स फॉलो करना होगा।

1. मसाला बिजनेस के लिए कच्चा माल

सबसे पहले, मसाले तैयार करने के लिए raw materials के जरूरत पड़ती है।

आप जिस भी मसले की व्यवसाय करना चाहते उसके कच्चा माल ख़िरीदे।

बाजार में सबसे ज्यादा मांग वाले मसाले नीचे दीगयी है।

जैसे, सूखे हुए हल्दी, मिर्च, धनिया,जीरा काली मिर्च, इलाइची, अदरक, अजवाइन, लोंग, मेथी, दालचीनी, केसर, सरसों, इत्यादि।

ये सारे कच्चा माल बाजार से खरीदे इसके बाद उसे धोकर धूप में सुखाने के लिए छोड़ दे।

बाद में उसे पीसकर पैकिंग करके बाजार में सेल करना पड़ता है। और इन सारे काम के लिए आपको मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाना होगा।

मसाला मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाने के लिए कुछ मशीनरी खरीदने की अबश्यकता होगी जो निम्नलिखित दिये गए है।

2. masala manufacturing ke liye machinery

इसके लिए जो भी मशीन की जरूरत पड़ेगी वह नीचे वर्णण किया गया है।

• क्लीनर: इस मशीन के माध्यम से जो भी कच्चा माल होगा उसे साफ़ सुथरा करने में मदत मिलेगी।

• ड्रायर: धूप में सुखाने के बाद जो मैटेरियल्स गीला रह जाते है उसे सुखाने के लिए ड्रायर की आवश्यकता होगी।

•  पुलवेरीज़र या ग्राइंडर: इस मशीन के मदत से कच्चा माल पिसाई किया जाता है।

• पैकेजिंग मशीन: पिसाई की काम  पूरा होने के बाद पैकेजिंग मशीन जरूरत पड़ेगी।

इसके मदत से पिसाई किया हुआ मसाला पैकिंग किया जाएगा।

3. मैन्युफैक्चरिंग के लिए जगह

Masala manufacturing unit लगाने के लिए उपयुक्त जगह महत्वपूर्ण भूमिका पालन करते है।

इसके लिए अधिक जगह की आवश्यकता नहीं यदि आपके पास लगभग 500 गज़ जगह है तो काफी है।

आप इस जगह दो भागों में बाट सकते है:

• मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस के लिए।
• पिसाई किया हुआ मसले की पैकेजिंग के लिए।

ध्यान रहे, मैन्युफैक्चरिंग यूनिट सेटअप करने के बाद हमेशा कोशिश करें बीस से बाईस दिन शामान तैयार की जाए।

>> गांव में करने के लिए बेस्ट बिजनेस आइडिया

और बचें हुए दिन प्रोडक्ट सेल करने में लगाये। क्योंकि, शुरू में सेल कम होती है इसलिए ज्यादा प्रोडक्शन की जरूरत नहीं।

4. मसाला के सेल कैसे करेंगे

आप दोनों तरीकों से मसाला बेच सकते है। पहला है, नॉन-ब्रांडेड और दूसरा है ब्रांडेड।

• नॉन-ब्रांडेड तरीके से सेल करने के लिए, आप सिंपल पॉलीथिन में पैक करके बचे सकते है या फिर खुलें बेच सकते है।

• और Everest, Cookme, Priya कंपनी जैसे ब्रांड बनाकर बेचने के लिए लाइसेंस की आवश्यकता होगी।

मसाला बिजनेस के लिए कौन सी लाइसेंस की जरूरत होगी उसके बारे में हमने नीचे बताये है।

मसाला सेल करने के लिए आप कुछ रिटेल शॉप, होटल, और स्कूल को भी कांटेक्ट कर सकते है।

पहले पहले आप उनकों कुछ आफर भी दे सकते है ताकि आपके प्रोडक्ट ज्यादा सेल हो।

मसाला बिजनेस में जरूरी लाइसेंस

मसाला एक खाने के चीज़ होने के नाते इसके व्यापार सुरु करने के लिए स्टेट गवर्नमेंट के कुछ लाइसेंस की जरूरत पड़ती है।

इसे पढ़े: किराना दुकान का लाइसेंस कैसे बनाये

 1. Firm registered: अगर आप इस व्यापार अकेले सुरु करना चाहते तो इसके लिए proprietorship के रेजिस्ट्रेशन करना पड़ेगा।

लेकिन अगर आप इसे पार्टनरशिप के तर पर करना चाहते है तो limited liability partnership (LLP) या फिर Pvt. Ltd. Company के रूप में रजिस्टर करना होगा।

 2. GST Registration: एक स्थायी बिजनेस सुरु करने के लिए आपके पास GST Number होना बहुत ही आवश्यक है।

 3. MSME/SSI Registration: बिजनेस से जुड़े सरकारी सहायता प्राप्त करने के लिए बिजनेस को MSME के तहत Udyog adhar MSME Registration करना पड़ता है।

 4. Trade License: आपके बिजनेस कंडक्ट करने के लिए लोकल ऑथोरिटी से ट्रेड लाइसेंस लेना होगा।

 5. Trade Mark: आपके बिजनेस आपके भविष्य है। इसलिए आपके बिजनेस को सुरक्षित बनाने के लिए ट्रेडमार्क जरूर बना ले।

 6. FSSAI License: मसाला, खाने के उत्पाद हेतु इसे सेल करने के लिए FSSAI (Food Safety and Standard Authority of India) लाइसेंस की आवश्यकता होगी। आप यहां क्लिक करके बना सकते है।

 7. IEC Code: अगर आप इसका निर्यात करना चाहते तो IEC Code की जरूरत पड़ेगी।

दोस्तों यह रहा मसाला उद्योग सुरु करने का पूरा प्रोसेस। आशा करता हूं आपको मसाला बिजनेस सुरु करने की पूरी जानकारी बारीकी से समझ आया होगा।

आप अपना एक्सपेरिएंस कमेंट करके बताये और अगर कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट में बताना न भूले।

और ऐसे ही वैलुएबल जानकारी मिस न हो इसलिए हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें।

ताकि जब भी मैं कोई नया आर्टिकल पब्लिश करूं तुरंत आपको नोटिफिकेशन चला जायेगा।

और अपने दोस्तों के साथ फेसबुक आदि सोशल मीडिया में शेयर करना न भूले।

अपने दोस्तों से साझा करें

2 Comments

Leave a Reply